दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Friday, August 31, 2007

पाकिस्तानी ब्लॉगरों से बातचीत


वॉयस ऑफ़ अमेरिका ने पिछले दिनों दुनिया भर में सक्रिय कुछ पाकिस्तानी ब्लॉगरों से बातचीत की.
यहां सुनिये.



यहां मौजूद फ़ोटो महज़ सजावटी है.

3 comments:

Anonymous said...

It is an interesting conversation. I think we are not aware of Indian bloggers' sate of mind. One can simply take a lead and make the topic burning. In hindi people are sceptical and clever enough to pretend.
H.Narayanan

Nishikant Tiwari said...

लहर नई है अब सागर में
रोमांच नया हर एक पहर में
पहुँचाएंगे घर घर में
दुनिया के हर गली शहर में
देना है हिन्दी को नई पहचान
जो भी पढ़े यही कहे
भारत देश महान भारत देश महान ।
NishikantWorld

अनूप शुक्ला said...

बहुत अच्छा लगा पाकिस्तानी ब्लागरों से बातचीत को सुनना। आपको इसको सुनवाने के लिये शुक्रिया। :)