दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Thursday, December 4, 2008

गंदे गाने: एक श्रृंखला... माल बाटे मोर चोखा

भोजपुरी गानों की एक पूरी दुनिया अब लुट चुकी है। उन गानों का स्थान अब अप्रिय गानों ने ले लिया है। एक दौर में एच एम वी और दूसरी बड़ी रिकार्ड कम्पनियों ने जिस संगीत से बहुत पैसा कमाया और जिस संगीत के बीच हमारे हमारे कान जवान हुए उनकी एक बानगी। भाई अफलातून से ध्यान देने के आग्रह के साथ।

4 comments:

vimal verma said...

भाई ठीक है कि एक समय ये गाने बहुत लोकप्रिय रहे...पर इन अब गानों को सुनकर प्रतिक्रिया देना थोड़ा अटपटा भी लग रहा है।

अनामदास said...

आपके माँगे बिना हमने पूरा ध्यान दिया और भरपूर आनंद लिया. जियs राजाsss

akhil said...

well done

akhil said...

well done