दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Tuesday, December 16, 2008

गंदे गाने: एक श्रृंखला...:आग लागे अइसन ओझाई...

1 comment:

sidheshwer said...

ई माल कहँवा से आइल हो रजा !