दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Friday, January 18, 2008

जैसे पानी पर कोई हो तलवार चलाय

भगवान दास 'एजाज़' से एक दोहा सुनिये-

1 comment:

munish said...

ye nai cheez hai. vaise kahan ke hain ye shayar.