दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Wednesday, June 24, 2009

दानिश साहब से बातचीत 5

1 comment:

AlbelaKhatri.com said...

baap re baap !
anand aa gaya....
yahan toh roz aana padega............