दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Monday, January 5, 2009

गंदे गाने: एक श्रृंखला: तब हमरो गंगा सनान होई...

1 comment:

ANIL YADAV said...

हमारे अवचेतन की मुख्य नदी में स्नान के पर्व का गीत।