दुनिया एक संसार है, और जब तक दुख है तब तक तकलीफ़ है।

Wednesday, July 1, 2009

दानिश साहब से बातचीत 7

1 comment:

pankaj said...

aap ki hansi aur thahake k liye yahan dubara aaya hun, sath me yahe bhi kahunga ki bat -chit achchhi lagi